Home BSP बसपा नेता राजेश यादव की इलाहाबाद में गोली मार के की हत्या,...

बसपा नेता राजेश यादव की इलाहाबाद में गोली मार के की हत्या, समर्थकों ने किया हंगामा।

231

Rajesh Yadav BSPसोमवार देर रात बसपा नेता राजेश यादव की इलाहाबाद के कर्नलगंज इलाके में गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना तब हुई जब वह अपने मित्र डॉं मुकुल सिंह के साथ फार्चुनर से इलाहाबाद विश्वविद्यालय के ताराचंद हॉस्टल गए थे।

बता दें कि भदोही में रहने वाले राजेश यादव ने 2017 चुनाव में ज्ञानपुर सीट से विधानसभा का चुनाव लड़ा था। राजेश इलाहाबाद के कम्पनीबाग के पीछे हरितकुंज अपार्टमेंट में रहते थे।

राजेश यादव इलाहाबाद में कम्पनीबाग के पीछे हरितकुंज अपार्टमेंट में रहते थे। सोमवार को देर रात जब वह अपने मित्र और राज नर्सिंग होम के मालिक डॉ. मुकुल के साथ ताराचंद हॉस्टल में किसी से मिलने गए थे तो रात के करीब 2:30 बजे हॉस्टल के बाहर किसी से विवाद हो गया और इसी दौरान उनको गोली मार दी गयी। राजेश के पेट में गोली लगी और वह गंभीर रुप से जख्मी हो कर वहीं गिर पड़े। उनके मित्र डॉ. मुकुल उन्हें जख्मी हालत में राज नर्सिंग होम लेकर गए, जहां इलाज के दौरान राजेश की मौत हो गई।

अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ की विवाद किससे और किस वजह से हुआ!

राजेश कुमार यादव भदोही जिले के दुगूना गांव के रहने वाले थे और डीघ ब्लॉक से जिला पंचायत अध्यक्ष भी रह चुके थे। वर्ष 2010 में जिला पंचायत सदस्य निर्वाचित होने के बाद से ही राजनीति में सक्रिय हुए राजेश यादव को 2009 में पार्टी का प्रभारी बनाया गया था। राजनीति में आने से पहले राजेश यादव इंजीनियर थे और समुद्र के अंदर पाइप लाईन बिछाने का काम करते थे साथ ही साथ दुबई, मॉरीशस जैसे स्‍थानों पर नौकरी भी कर चुके थे।

राजेश कुमार यादव काफी लंबे समय से बसपा से जुड़े थे और यादव वोट बैंक में सेंध लगाने के लिए बसपा ने उन्हें 2017 में ज्ञानपुर विधानसभा से उम्मीदवार बनाया था। हालांकि वह विधानसभा चुनाव में कोई करिश्मा नहीं कर सके थे और उनकी बुरी तरह हार हुई थी, जिसमें ज्ञानपुर सीट से बाहुबली विजय मिश्रा ने चुनाव जीता था।

पुरानी पृष्टभूमि
राजेश अक्सर बाहुबली विजय मिश्र पे नोट के दम पे चुनाव जीतने का आरोप भी लगाया करते थे, राजनीति के अलावा, बिज़नेस पृष्टभूमि होने के कारण राजेश यादव की कई लोगों से करोड़ों के लेंन देन वाली बिज़नेस पार्ट्नर्शिप भी चल रही थी।

शक के घेरे में डॉ. मुकुल, पत्नी ने लगाया आरोप!

– राजेश की पत्नी मोनिका ने हत्या के पीछे डॉ. मुकुल का हाथ होने का आरोप लागाया है। उनका कहना है कि राजेश का उनसे बिजनेस को लेकर कुछ विवाद था। उन्होंने विधानसभा चुनाव से जुड़ा कोई विवाद होने से साफ इनकार किया है।

पुलिस के मुताबिक राजेश की गाड़ी में पीछे से ईंट पत्थर मारे गए। वारदात के बाद पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है। SSP आनंद कुलकर्णी ने बताया, “कर्नलगंज पुलिस आसपास के चौराहों पर लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाल रही है। झगड़ा किससे और क्यों हुआ, अभी ये साफ नहीं है। परिवार के लोग कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है, पुलिस जांच कर रही है।” एसपी सिटी सिद्धार्थ शंकर मीणा ने बताया कि राजेश की कार से गोली के कुछ खाली खोखे मिले हैं। कार पर ईंट-पत्थर मारने के निशान भी हैं।