Home Open Talks पाँच ब्राह्मणों की निर्मम हत्या पे सरकार चुप, मीडिया चुप, विपक्ष चुप!

पाँच ब्राह्मणों की निर्मम हत्या पे सरकार चुप, मीडिया चुप, विपक्ष चुप!

लाठियों से पीटा, गोली मारी, पाँच ब्राह्मणों को ज़िंदा जलाया!

1159
SHARE

घटना: – पाँच ब्राह्मणों की निर्मम हत्या!

वैसे तो अधिकांश ब्राह्मण लिबर्ल होते हैं पर जिस प्रकार से रायबरेली में 5 ब्राह्मणों की निर्मम हत्या हुयी है उसकी चर्चा ना तो रबिश कुमार के प्राइम टाइम पे होगी ना किसी राष्ट्रीय चैनल ने की! और करें भी तो क्यों, दलित या कोई अल्पसंख्य होते तो अभी तक तुष्टिकरण या जातिगत राजनीति करने वाले दल और उनके नेता अपनी छाती पीट रहे होते! प्रधान सेवक व विपक्षी दल के नेता अब तक ट्वीट कर दुःख प्रकट कर चुके होते या रायबरेली का रूख कर चुके होते पर ये सब क्यों नहीं हुआ!

मीडिया का TRP वाला चश्मा!

ख़ैर अमर उजाला की हेड लाइन पे ग़ौर करिएगा, अगर दलित या अल्पसंख्यक होते तो ख़बर “पाँच दलितों/अल्पसंखों को गाड़ी में ज़िंदा फूँका” से शुरू होती और कैरना या अखलाक घटना से जोड़ दी जाती पर अफ़सोस ब्राह्मण थे सब के सब वरना TRP मिस्स ना होती!

Source : Amar Ujala
Source : Amar Ujala

राजनीतिक समीकरण: 

वैसे जानकारी के लिए बता दूँ की उत्तर प्रदेश के नव निर्वाचित विधायकों में 65 ब्राह्मण विधायक हैं! ना ना इसमें डरने वाली कोई बात नहीं, वो कोई अनशन, धरना या बवाल करने वाले नहीं हैं वो सब तो सिर्फ़ ब्राह्मणों के वोट काटने वाले चेहरे हैं! वो सब इस #ब्राह्मणहत्याकांड पे खामोश मिलेंगे!

हिस्सेदारी: कमाई में दम संख्या में कम! मुट्ठी भर ब्राह्मण सुने कौन!

जनसंख्या के हिसाब से 130 करोड़ आबादी में हमारी हिस्सेदारी लगभग 5.5 करोड़ की है सीधे शब्दों में 4.23% कुल आबादी का और जो हमारी कमाई पे तमाम सरकारी सुविधों और आरक्षण के साथ मीडिया की TRP का भी सीधा मजा ले रहे हैं वो २०११ के सरकारी आँकड़ों के हिसाब से क्रमशः 25%(दलित) और 14.2% (अल्पसंख्यक) हैं! फिर भी हमारा सुध लेने के लिए कौन है? ना सरकार ना कोई हिंदू ब्राह्मण संगठन!

कोई मीडिया नहीं लिखेगा पर हमने लिख दिया है कम से कम शेयर तो कर ही देना! और अपने वोट देने वाले ब्राह्मण नेता से पूछना ज़रूर की वो जो 5 ब्राह्मण को ज़िंदा जलाया है उसके विरोध वाला फ़ेसबुक पोस्ट और धरने की फ़ोटो भेजें ज़रूर! और ना भेजें तो समझ लेना की जब आप मारे जाओगे तो भी वो कुछ नहीं बोलेंगें, करना तो दूर की बात हैं!!!

Leave a Reply